5G के लिए साठगांठ: एयरटेल ने क्वालकॉम के साथ की साझेदारी, दोनों मिलकर देश में कम लागत और तेजी से सर्विस शुरू करेंगे

0
6


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्ली4 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
  • हाल ही में एयरटेल ने हैदराबाद में 5G का लाइव कमर्शियल नेटवर्क पेश किया
  • दिसंबर 2020 में एयरटेल अपने नेटवर्क में 40 लाख से ज्यादा ग्राहक जोड़ चुकी है

भारत में 5G सर्विसेस शुरू करने के लिए एयरटेल ने अमेरिकी चिपमेकर कंपनी क्वालकॉम के साथ साझेदारी करने की घोषणा की है। एयरटेल ने स्टॉक एक्सचेंज को दिए अपने बयान में कहा कि देश में 5G नेटवर्क को रोलआउट करने के लिए कंपनी क्वालकॉम के रेडियो एक्सेस नेटवर्क प्लेटफॉर्म का उपयोग करेगी।

एयरटेल और क्वालकॉम मिलकर 5G फिक्स्ड वायरलेस एक्सेस नेटवर्क तैयार करेंगी और देशभर में कम लागत और तेजी से सर्विस शुरू करने के लिए काम करेंगे। इसे घरों और बिजनेस के लिए गीगाबाइट स्पीड से ब्रॉडबैंड कनेक्टिविटी प्रदान करने के लिए डिजाइन किया जाएगा। माना जा रहा है कि एयरटेल की यह साझेदारी दूसरी कंपनियों के लिए चुनौती पैदा कर सकती है।

हैदराबाद में एयरटेल ने 5G का डेमो दिया, ऐसा करने वाली पहली कंपनी
हाल ही में, एयरटेल ने हैदराबाद में 5G का एक लाइव कमर्शियल नेटवर्क शोकेस किया था। ऐसा करने वाली एयरटेल देश की पहली कंपनी है। अब इस सर्विस के विस्तार के लिए एयरटेल ने क्वालकॉम को अपना पार्टनर चुना है। एयरटेल और क्वालकॉम टेक्नोलॉजीज 5G फिक्स्ड वायरलेस एक्सेस समेत इसके विस्तृत उपयोग के लिए सहयोग करेंगे।

दिसंबर 2020 में एयरटेल से जुड़े 40 लाख से ज्यादा ग्राहक
ट्राई की रिपोर्ट के मुताबिक, भारती एयरटेल लगातार पांचवे महीने सबसे ज्यादा वायरलेस यूजर्स जोड़ने वाली टेलीकॉम कंपनी बन गई है। दिसंबर 2020 में कंपनी ने 40.5 लाख वायरलेस सब्सक्राइबर जोड़े, जिसके साथ कंपनी का यूजरबेस 33.87 करोड़ हो गया है। इस बाद रिलायंस जियो है, जिसने 4,78,917 सब्सक्राइबर्स को जोड़ा और इसी के साथ कंपनी का यूजरबेस 40.877 करोड़ हो गया है।

5G रोलआउट करने के लिए जियो तैयार, बस स्पेक्ट्रम का इंतजार
इस बीच, एयरटेल की सबसे बड़ी कॉम्पीटिटर जियो ने कहा है कि उसने 5G के लिए एक इन-हाउस सॉल्यूशन तैयार किया है। जैसे ही स्पेक्ट्रम उपलब्ध होगा, वह सर्विसेस को रोल आउट करना शुरू कर देगा। जियो की पैरेंट कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज ने पिछले साल अपनी डिजिटल यूनिट जियो के लिए क्वालकॉम की निवेश शाखा से लगभग $ 97 मिलियन जुटाए थे।

मार्च में होगी है स्पेक्ट्रम नीलामी
देश में स्पेक्ट्रम की नीलामी 1 मार्च से शुरू होने वाली है। नीलामी में भाग के लिए जियो, एयरटेल और वोडाफोन-आइडिया तीनों ही टेलीकॉम कंपनियों ने अर्नेस्ट मनी डिपॉजिट (EMD) जमा कर दिए हैं। रिलायंस जियो ने EMD के तौर पर 10 हजार करोड़ रुपए की रकम जमा की है, जबकि एयरटेल ने 3 हजार करोड़ रुपए और वोडाफोन-आइडिया ने मात्र 475 करोड़ की रकम जमा की है।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here