बाइक की जगह अब कार खरीद रहे हैं भारतीय, चौंका देगी ये रिपोर्ट

0
6


Photo:PTI

Car Sale in India

नयी दिल्ली। भारतीय मध्यम वर्ग का रुझान अब तेजी से बदल रहा है। एक समय जहां आम भारतीय बाइक या स्कूटर खरीदने की ओर जाते थे, वहीं अब भारत में कारों की बिक्री में तेजी देखी जा रही है। मार्च के ऑटोमोबाइल सेक्टर के आंकड़ों पर गौर करें तो यह अंतर साफ दिखाई देगा। ताजा रिपोर्ट के अनुसार यात्री वाहनों की खुदरा बिक्री मार्च महीने में पिछले साल की समान अवधि के मुकाबले 28.39 प्रतिशत बढ़कर 2,79,745 इकाई पर पहुंच गई। पिछले साल कोविड-19 महामारी के प्रकोप के चलते बिक्री काफी कम रही थी। वहीं दोपहिया वाहनों की बिक्री में 35 प्रतिशत की बड़ी गिरावट आई है।

पढ़ें- भारतीय कंपनी Detel ने पेश किया सस्ता इलेक्ट्रिक टू-व्हीलर, जबर्दस्त हैं खूबियां

पढ़ें- सिर्फ 149 रुपये में लाइफ इंश्योरेंस, बिना कागजात घर बैठे ऐसे करें अप्लाई

वाहन डीलरों के संगठन फेडरेशन ऑफ ऑटोमोबाइल डीलर्स एसोसिएशन (फाडा) ने यह जानकारी दी। फाडा द्वारा 1,482 क्षेत्रीय परिवहन कार्यालयों (आरटीओ) में से 1,277 आरटीओ से वाहनों के पंजीकरण के आंकड़े जुटाए गए हैं। मार्च, 2020 में यात्री वाहनों की बिक्री 2,17,879 इकाई रही थी। हालांकि, समीक्षाधीन महीने में दोपहिया की बिक्री 35.26 प्रतिशत घटकर 11,95,445 इकाई रह गई, जो एक साल पहले समान महीने में 18,46,613 इकाई रही थी। 

पढ़ें- SBI ग्राहकों के लिए बुरी खबर! बैलेंस न होने पर ट्रांजेक्शन हुआ फेल, तो लगेगा इतना ‘जुर्माना’

इस दौरान वाणिज्यिक वाहनों की बिक्री भी 42.2 प्रतिशत घटकर 67,372 इकाई रह गई, जो मार्च, 2020 में 1,16,559 इकाई रही थी। इसी तरह तिपहिया वाहनों की बिक्री भी 50.72 प्रतिशत घटकर 38,034 इकाई रह गई, जो एक साल पहले इसी महीने में 77,173 इकाई रही थी। हालांकि, इस दौरान ट्रैक्टर की बिक्री 29.21 प्रतिशत बढ़कर 69,082 पर पहुंच गई।

पढ़ें- SBI ग्राहक घर बैठे बदल सकते हैं नॉमिनी का नाम, ये है तरीका

पढ़ें- पेटीएम से पेमेंट करना पड़ेगा महंगा, कंपनी ने थोपा एक्स्ट्रा चार्ज





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here